movie review:- dangal (छोरो से कम नही है दंगल की छोरियॉ)

Movie – Dangal 

Star CastAmir Khan, Sakshi Tanwar, Fatima Sana Shaikh, Sanya Malhotra.

DirectorNitesh Tiwari

Movie Rating –  (4.5 / 5)

Dangal 2016 की एक सच्छी घटना पर आधारित biographical sports-drama bollywood फिल्म है। इस फिल्म मे मुख्य अभिनेता के रूप मे आमिर खान ने  ex-wrestler महावीर फोगाट का किरदार निभाया है। महावीर भारतीय महिला wrestler गीता और बबिता कुमारी के पिता हैं।

गीता भारत की पहली female wrestler है जिन्होने 2010 Commonwealth Games, मे gold medal और उनकी बहन बबिता कुमारी ने  silve medal जीता है।

Story –

फिल्म की कहानी हरियाणा के महावीर सिह फोगाट और उनकी धाकड बेटियो पर है। महावीर देश के लिये गोल्ड मेड्ल जीतना चाहते थे पर कुछ कारणो से उनका सपना अधुरा रह जाता है । हर हिन्दुस्तानी की तरह वे भी अपने बेटो के जरिये अपना सपना पूरा करना चाहते हैं और गोल्ड मेड्ल पाना चाहते है पर उनके घर मे एक भी लडके का जन्म नही होता। बेटा ना होने पर महाबीर अपने सपने को पूरा करने के लिये बेटियो का सहारा लेते है और उन्हे कुस्ती के मैदान मे उतारते है। लडको के खेल मे लडकियो को उतारने पर लोग उन पर हसते है, पर महावीर के बेटियो का दम देखकर सबका मुह बंद हो जाता हैं।

Directing –

नितेश तिवारी की डायरेक्टिंग कमाल की है उन्होने इससे पहले चिल्लर पार्टी और भूतनाथ को डायरेक्ट किया था। इतने कम फिल्मे करने के बाद भी उन्होने अपना काम बखूबी किया है। फिल्म के सीन आपको जोश से भर देते है और कुछ जगह भावुक भी करते है। फिल्म के फस्ट हॉफ मे आप फिल्म से ध्यान नही हटता और सेकण्ड हॉफ भी कमाल का है।

Acting –

अमीर खान की मेहनत इस फिल्म मे साफ दिख रही है। उन्हे mr. perfect युं ही नही कहा जाता, दगल फिल्म के लिये अमीर खान ने अपने किरदार महावीर फोगाट की तरह दिखने के लिये काफी वजन बढाया और घटाया था। अपनी perfectness के कारण वे अपने किरदार से कही भी भटकते हुये नजर नही आते। फिल्म मे आमिर का dialogue म्हारी छोरियॉ छोरो से कम है के हिट है। बाल कलाकार के रूप मे जायरा वसीम और सुहानी भटनागर ने बहोत अच्छा काम किया है इन्होने भी फिल्म के लिये कडी मेहनत की थी। फातिमा सना सेख  गीता फोगाट के रोल मे जच रहीं है उनका काम लाजवाब है। फिल्म के बाकीं कलाकार भी अपनी जगह फिट हैं।

Music

फिल्म का गाना हानिकारक बापू को लोगो ने बहोत पसंद किया है जो झुंमने मे मजबूर कर देता है। फिल्म के बांकी गाने धाकड और गिलहरियां भी अच्छे हैं।

हॉ/नही –

ये फिल्म पूरी तरह से पारीवारिक है और ये बताती है की जो काम लडके कर सकतें है वो लडकियॉ भी बखूबी कर सकती है। फिल्म आपको motivation से भर देगी और आपको निरास नही करेगी। इसलिये Dangal देखने जरूर जायें।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *