भारत के Top 10 बडी नदियॉ जिनसे है भारत की पहचान

भारत के Top 10 बडी नदियॉ जिनसे है भारत की पहचान|

India को Mother land कहा जाता है और यहॉ बहने वाली नदियो को भी हम पौराणिक कथाओ के अनुसार मॉ का ही दर्जा देते है, इसलिये भारत मे नदियो का एक विशेस महत्व है। नदियो का प्राचीन समय से ही मानव सभ्यताओ के विकास मे एक विशेस योगदान रहा है। नदियो के ही किनारे अलग-अलग सभ्यताओ का विकास और परिवर्तन हुआ है। तो आइये जानते है भारत के मुख्य नदियो के नाम ………

सिन्धु नदी (Indus river)

indus-river

सिन्धु नदी को एशियॉ की सबसे बडी नदीयो मे माना जाता है इसकी Length लगभग 2900 से भी ज्यादा मानी गई है, सिन्धु नदी को english मे indus river के नाम से भी जाना जाता है। सिन्धु उत्तरी भारत की तीसरी व पाकिस्तान की सबसे बडी नदी है।  सिन्धु नदी का उदगम उत्तर भारत मे हिमालयो से हुआ है

गंगा (Ganga river)

Ganga river,haridwar in india

गंगा भारत की सबसे पवित्र नदी मानी जाती है, इसका ऐतिहासिक, पौराणिक और वैज्ञानिक तीनो मे विशेस महत्व है। गंगा का उदगम गंगोत्री से हुआ है, इसकी कुल length लगभग 2510 km है। गंगा नदी का पानी जल्दी खराब नही होता इसे महीनो तक बन्द बोतल मे रखा जा सकता है। कई बार जब ब्रिटिश समुद्र मे लम्बे सफर पर जाते तो गंगा नदी का ही पानी साथ रखते थे जो कई महीनो तक चलता था।

ब्रम्हपुत्र (Brahmaputra river)

brahmputra river in india

ब्रम्हपुत्र का उदगम lake मानसरोवर से हुआ है इसकी length 2900km है। तीन देशो (India,Bangladesh,China ) मे बहने वाली इस नदी को कई नामो जैसे-सापो, जमुना, डिहं के रूप मे जाना जाता है। भारत मे सभी नदियो को देवियो के रूप मे माना जाता है, पर ब्रम्हपुत्र को एक देव का नाम दिया गया है जिसका मतलब है ब्रम्हा का पुत्र।

गोदावरी (Godavari river)

Godavari-nadi

गोदावरी की उतपत्ती महाराष्ट्र के त्रम्बक पर्वत (hill) से हुई है। इसकी length 1450km है, यह नदी महाराष्ट्र से निकलकर तेलंगाना और आन्ध्रप्रदेश होते हुये बंगाल की खाडी मे मिलती है। गोदावरी दक्षिण भारत की एक प्रमुख नदी है। गोदावरी को भी गंगा के तरह पवित्र माना गया है, गोदावरी का नाम तेलगु के ‘गोद’ शब्द से लिया गया है, जिसका मतलब मर्यादा माना जाता है।

नर्मदा (Narmada river)

Narmada

नर्मदा का उदगम मध्यप्रदेश मे अमरकंटक के पहाडो से होता है। इसकी कुल length 1290km है। नर्मदा मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र दो state मे बहने वाली नदी है। अमरकंटक से निकलकर नर्मदा अरब सागर मे मिलती है।

कृष्णा (Krishna river)

krishna-river

कृष्णा नदी की उतपत्ती महाराष्ट्र प्रदेश के महाबलेश्वर के पास स्थित एक गॉव से होती है, जिसकी  length लगभग 1290km है। कृष्णा नदी चार प्रदेशो (महाराष्ट्र,कर्नाटक,तेलंगाना,आंध्रप्रदेश) मे बहती है।इन चारो प्रदेश के अधिकांश भाग कृष्णा नदी पर ही सिचाई के लिये आश्रित रहते है। कृष्णा नदी महाबलेश्वर की पहाडियो से निकलकर बंगाल की खाडी मे जाकर मिलती है।

यमुना (Yamuna river)

india yamuna river

यमुना गंगा नदी की सबसे बडी सहायक नदी है, यमुना की उतपत्ती उत्तराखंड के यमनोत्री Glacier से होती है। इसकी कुल length लगभग 1211km है। यमुना नदी यमुनोत्री से निकलकर हरियाणा की सीमा से होते हुये मैदानी भाग मे इकट्ठा होती है और उत्तर प्रदेश के प्रचीन शहर दिल्ली व आगरा होते हुये इलाहाबाद मे गंगा नदी से मिलती है। यमुना भी एक प्राचीन नदी है, गाथाओ मे कृष्ण लीलाओ के साथ  अनेक बार यमुना का भी उल्लेख हुआ है।

महानदी (Mahanadi river)

Mahanadi-river-in-india

महानदी पूर्वी मध्य भारत की एक मुख्य नदी है इसकी कुल length लगभग 890km है।महानदी का उदगम छत्तीसगढ रायपुर के पास स्थित सिहावा की पहाडियो से हुआ है।प्राचीन काल मे महानदी को चित्रोत्पला के नाम से जाना जाता था, महानदी मुख्यता अपनी सहायक नदियो के कारण महानदी का रूप धारण करती है।महानदी का इतिहास मे भी काफी महत्व है, पुराणो के अनुसार महानदी को गंगा के समान माना गया है।

कावेरी (Kaveri river)

kaveri-nadi-in-india

कावेरी कर्नाटक और तमिलनाडू दो प्रदेशो मे बहने वाली नदियॉ है। कावेरी की उतपत्ती ब्रम्हगिरी के पहाडो से होती है।इसकी कुल length 760km है, कावेरी नदी की प्राचीनता और महानता के कारण इसे दक्षिण भारत की गंगा भी कहा जाता है।ब्रम्हगिरी से निकलने वाली कावेरी नदी अंत मे बंगाल की खाडी मे मिलती है।

ताप्ती (Tapti river)

tapti-nadi

पूर्व से पश्चिम के ओर बहने वाली मध्य भारत की मुख्य नदीओ मे से एक है। ताप्ती मध्यप्रदेश के बैतूल जिले से निकलकर अरब सागर मे खम्बात की खाडी पर गिरती है,जिसकी length लगभग 720km है। ताप्ती तीन प्रदेशो (मध्य प्रदेश,महाराष्ट्र,गुजरात) मे बहती है।

 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *