ये आदते बढा सकते हैं आपके दांतो का दर्द

ये आदते बढा सकते हैं आपके दांत का दर्द

These habits can increase the pain of your teeth

ye adate badha sakte hai aapke danto ka dard

हमारे दांत शरीर का एक अनमोल हिस्सा होते है। ये हमारे चेहरे की खूबसूरती बढाने व घटाने का काम करतें है। इन दांतो की वजह से ही आप अपनी मुस्कुराहट से लोगों मे अपनी पहली मुलाकात से ही छाप छोड देते है। पर अकसर हम इनका ध्यान ही रखना भूल जाते हैं या नजरअंदाज कर देते हैं जिसकी कारण लोगो को दांतो मे पायरिया व कैविटी जैसी समस्यायें होने लगती है। ये समस्यायें अपनी ही कुछ आदतो के चलते जाने-अनजाने मे होती है इसलिये अपने इन आदतो मे बदलाव करें और दांतो को सुरक्षित रखे जिससे आपकी मुस्कुराहट मे कोइ कमी ना आये।

ऐसे सुरक्षित करे अपने खूबसूरत दांतो को

दांतो को ना समझे कोइ टूल

हम सभी फिल्मे देखते है और इनसे कई अच्छी व बूरी बातें हम सीखते है जैसे किसी कोल्ड्रिंक की बोतल को फिल्मी स्टाइल मे दांतो से खोलना ये आपके लिये मजेदार तो हो सकता है पर आपको जिन्दगी भर का दर्द दे सकता है। क्योकी इस तरीके से कोल्ड्रिंक की ढक्कन निकालने पर दांतो के उपरी परत इनेमल खराब हो जाते है और दांतो मे दरार पड जाती है। जिसके कारण दांतो मे सेंस्टीविटी व दर्द जैसी समस्याये उत्पन्न होती है।

कुछ भी बिना सोचे खाना

देश के कई युवा, बडे-बूढे व महिलाओ को सुपारी खाने की आदत है। और ये आदत ही दांतो के लिये सबसे ज्यादा हानिकारक होते है। सुपारी कठोर होती है जिसे चबाने से दांतो को नुकसान होता है व सुपारी के छोटे-छोटे टुकडे दांतो के बीच फसकर कैविटी को और बढाने का काम करते है। अकसर देखा जाता है जो लोग सुपारी का सेवन करते है (चाहे सुपारी किसी भी रूप मे हो) उन व्यक्तियो के दांत ढेडे-मेडे या टूटे हुये खराब होते है। इसलिये इस आदत को पूरी तरह खत्म कर दें इसकी जगह कुछ सेहतमंद खायें।

गलत तरीके से सफाई करना

गॉव व शहर की ज्यातर आबादी खाना खाने के बाद दांतो मे फसे खाने को निकालने के लिये किसी नुकीली चीजो का सहारा लेते है जो दांतो के लिये काफी नुकसान देय है क्योकी इन सब का इस्तेमाल करने से आपके दांतो की कैविटी धीरे-धीरे बढती जाती है व दांतो की मजबूती घटती है। इसके अलावा मसूडो से खून आने और दांतो के दर्द की समस्या बनी रहती है इसलिये अगर आपको दांतो की सफाई करना है तो सही तरीके को अपनाये जैसे ब्रश करान, दांतो की फ्लॉस करना आदी।

हमेशा दर्द को नजर अंदाज करना

दांतो के हल्के दर्द को हम सभी नजर अंदाज कर देतें है या फिर किसी घरेलू उपाय से उपचार करने की कोशिस करते है। इन उपाओ से कुछ समय के लिये दर्द तो चला जाता है पर समस्याये पूरी तरह खत्म नही होती और धीरे-धीरे दर्द बहोत बढ जाता है। जब दर्द ज्यादा व असहनीय हो तब डॉ. के पास जाते है पर देर हो चुकी होती है। इसलिये हल्के दर्द मे ही डॉ को दिखा देना चाहिये जिससे उसका आसानी से इलाज हो सके क्योकी दांतो मे कम कैविटी हो तो उसे भरा जा सकता है पर ज्यादा कैविटी होने पर दांतो को उखाडना पडता है।

दोनो टाइम ब्रश ना करना

सुबह के वक्त ब्रस तो सभी करते है पर रात को सोने से पहले ब्रस करना भूल जाते है या नही करना चाहते। जबकी रात को इसकी सबसे ज्यादा जरूरत होती है क्योकी पूरे दिन हम तरह-तरह की मनपसंद चीजे खाते रहते हैं जिससे सुक्ष्म जीवो को दांतो मे कैविटी बनाने का समय नही ही मिलता और रात को सोते समय ये अपना काम करते है। इसलिये रात मे दांतो को ब्रस करना जरूरी है जिससे की सुक्ष्म जीव दांतो मे कैविटी ना बना पायें और आपके दांत सुरक्षित रहें।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *