private browsing क्या है। और इसके क्या फायदे है।

Private browsing क्या है। और इसके क्या फायदे है।

private browsing kaise kare

हम सभी privacy चाहते है, हम चाहते है कि जब भी हम netsurffing करे या फिर INTERNET पर कोइ भी activity करे तो दोस्तो और जान-पहचान के लोगो को पता ना चले। और जब कोइ हमारे लैपटॉप या कम्पुटर पर हमारे downloads, history की ताक-झाक करता है तो हमे बहोत गुस्सा आता है। हम चाह कर भी कुछ नही कर पाते, तो इन सब से बचने के लिये private browsing हमारे बहोत काम आ सकता है। तो आइये जानते है

क्या है private browsing……

Private browsing हमारे browser पर एक अज्ञात window है, जिस पर किया हुआ कोइ भी काम (जैसे-किसी service के लिये wave search ) save नही होता। और आप पूरी तरह से सुरक्षित हो जाते है। इस browsing मे हमारे द्वारा किये हुये Download और History भी save नही होती।

क्या फायदे है private browsing के…..

private browsing के कई फयदे है जिसे जानकर आप हैरान हो जायेंगे

  1. अगर कोइ आपके computer का इस्तेमाल करेगा तो उसे पता नही चल पायेगा की आपने google मे क्या search किया है।
  2. हमारे use होने वाले Account सुरक्षित हो जाते है।
  3. अगर हम किसी दूसरे का computer इस्तेमाल करते है तो हमारी activity, search और password के save होने का डर नही होगा।
  4. आप किसी भी कैफे मे इस private window का इस्तेमाल बेझिझक कर सकते है।
  5. Google किसी भी तरह के search को अपने पास save करके उसका अपने पास record रखता है पर private browsing का save नही कर पाता।

इन्हे भी पढे- Youtube से direct video कैसे download करे।

कैसे उपयोग करे private browsing का…..

private browsing का इस्तेमाल करना बहोत आसान है ये सुनने मे कठिन लगता है, आपको लग रहा होगा इसके लिये हमे setting मे फेर बदल करना होगा पर इसकी कोइ जरूरत नही है। हम यहा आपको अलग-अलग browser मे इस window को open करना बतायेंगे।

Mozilla firefox browser मे

  • Mozilla मे इस browsing का इस्तेमाल करने के लिये Ctrl+shift+P बटन को दबाये या
  • Browser मे दाहिने तरफ उपर menu मे जाकर private browsing open कर सकते है।

Mozilla-firefox (private browsing)

Google Chrome browsing मे

  • Google chrome मे private window को open करने के लिये Ctrl+shift+N बटन को दबाये
  • Google chrome open करने के बाद दाहिने तरफ उपर की ओर menu जाकर click करे फिर

Google-chrome-open-in-private-window

Private browsing हमारे लिये तो फायदेमंद है पर इसे उपयोग करने पर भी हम कानूनी एजेंसियो से नही बच सकते इसलिये कुछ भी करने पहले अच्छी तरह से सोच ले।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *