फूलो की खुशबू से करे बीमारियो को दूर

जब भी हम कभी फूलो के पास जाते है तो उनकी खुशबू से हमारा दिल खुशनुमा हो जाता है। खुशबू हमारे मन को शांत करती है और पूरे शरीर को ताजगी से भर देती है। जिसके कारण कभी-कभी हम दिन मे पूरे समय active रहते है। इन सभी के विपरीत अगर हमारा सामना किसी कचरे के ढेर या ना की बदबू से हो जाय तो पूरा मूड खराब हो जाता है और बे वजह गुस्सा भी आता है। इन सबसे पता चलता है की गंध का हमारे उपर क्या प्रभाव पडता है।

आयुर्वेद और विज्ञान दोनो ही सुगंध से होने वाले प्रभावो को अच्छे से समझते है। कई तरह के अलग-अलग सुगंध व्यक्ती को शारीरिक और मानसिक कष्टो से राहत दिलाते है जिसे हम आरोमा थेरिपी के नाम से जानते है। हम जाने-अनजाने मे लगभग हर दिन इस थेरिपी का उपयोग करते रहते है जिससे मन मे प्रसन्नता और उत्साह बढता है।

जीवन मे भरे सेहत की खुसबू

जानिये किस खुशबू का कैसा असर

चंदन

चंदन की खुशबू काफी मनमोहक होती है यह हमारे तंत्रिका तंत्र को शांत करती है। यह आपके मन की उथल-पुथल को समाप्त करता है और टेंशन को खत्म कर मन प्रसन्न करता है। चंदन से सीने का दर्द और त्वचा का रूखापन दूर होता है।

गुलाब

गुलाब की खुशबू प्रतीदिन लेने से पित्त दोषो मे आराम मिलता है। इसकी महक चिंता , डिप्रेशन और स्ट्रेस को दूर करती है इसके आलावा यह पाचन क्रिया की समस्या को ठीक करने मे भी कारगर होती है। पर औरतो को अपने गर्भवस्था के समय गुलाब की खुशबू का उपयोग नही करना चाहिये।

चमेली

चमेली की खुशबू का उपयोग डिप्रेशन दूर करने के आलावा किसी आदात को दूर करने, आसानी से प्रसव कराने और श्वास के रोगो को दूर करने के लिये किया जाता है। चमेली की महक का प्रयोग प्रसव के समय तो होता है पर इसे भी गुलाब की तरह गर्भवस्था मे उपयो नही करना चाहिये।

नीलगिरी

नीलगिरी इम्युन सिस्टम को बेहतर बनाता है व सांस लेने की प्रक्रिया को ठीक करता है। जुकाम, बंद नाक, कफ की समस्या और सीने मे हो रही जकडन से नीलगिरी राहत दिलाती है। इसकी खुशबू से सिर मे हो रहे दर्द, माइग्रेन व मानसिक थकान मे आराम मिलता है यह दांत दर्द मे भी लाभदायक होता है।

नीबू

नीबू की महक आपके दिमाक मे फैली उथल-पुथल को शांत करने मे मदद करता है। यह शरीर की प्रतीरक्षा प्रणाली को ठीक करता है और मन को प्रसन्न बनाये रखता है। बहोत से लोग सुबह की चाय मे नीबू का प्रयोग करते है इसकी सुगंध से ताजगी का एहसास होता है।

पुदीना

पुदीना मानसिक सर्तकता और हमारी याददास्त को बढाने मे काफी मददगार साबित होता है। यह सिर मे हो रहे दर्द और शारीरिक मांसपेशियो के खिचाव को दूर करता है। इसके अलावा यह पाचन प्रक्रिया की प्रणाली मे भी सुधार लाता है।

the source of the article is Dainik Bhaskar

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *